आई आई मेहरवाली देखो आई शेरावाली

62

शेरो पे माँ करके सवारी अपने भग्तो के घर माँ पधारी,
ढोल नगाड़े बजादो रे ताली आई आई मेहरवाली देखो आई शेरावाली,

माँ के जयकारो से गूंजे है गलियां आँगन में महके है फूलो की कलियाँ ,
आँखों में काजल कानो में बाली,
आई आई मेहरवाली देखो आई शेरावाली,

अम्बर से चुन चुन के कालिया मंगवाए,
भगतो ने माता की ज्योत जगाये,
मैया के हाथो में छाई लाल लाली.
आई आई मेहरवाली देखो आई शेरावाली,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here