अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी – Ankhiya Hari Darshan Ki Pyasi

अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी भजन – Ankhiya Hari Darshan Ki Pyasi

Ankhiya Hari Darshan Ki Pyasi Lyrics

हरी दर्शन की प्यासी अखियाँ…
हरी दर्शन की प्यासी (३)

देखियो चाहत कमल नैन को..
निसदिन रहेत उदासी
अखियाँ निसदिन रहेत उदासी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी

आये उधो फिरी गए आँगन..
दारी गए गर फँसी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी..

केसर तिलक मोतियाँ की माला..
ब्रिन्दावन को वासी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी..

कहो के मंकी कोवु न जाने..
लोगन के मन हासी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी..

सूरदास प्रभु तुम्हारे दरस बिन..
लेहो करवट कासी..
अखियाँ हरी दर्शनदरसन की प्यासी..
अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी.

Leave a Comment