आरती गणेश जी की – जय गणेश, जय गणेश देवा …

227

 गणेश जी आरती – Ganesh ji ki Aarti Download

Ganesh ji ki aarti – गणेश चतुर्थी को गणेश चौथ, विनायक चतुर्थी और कलंक चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है। गणेश चतुर्थी को विघ्नहर्ता और प्रथम पूज्य भगवान गणेश जी की विधि विधान से पूजा की जाती है(Ganesh ji ki aarti Lyrics) पूजा में उनको दूर्वा चढ़ाई जाती है और विशेषकर मोदक का भोग लगाया जाता है (Ganesh ji ki aarti in Hindi) भगवान गणेश को मोदक अतिप्रिय है। भगवान गणेश प्रसन होकर भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करते हैं और सभी विघ्न-बाधाओं को दूर करते हैं Jai Ganesh Jai Ganesh Aarti Lyrics…..

आरती गणेश जी की – Jai Ganesh Jai Ganesh Deva Lyrics

|| आरती गणेश जी की ||

जय गणेश, जय गणेश देवा

माता जाकी पार्वती पिता महादेवा

एक दन्त दयावन्त चार भुजा धारी

माथे पर तिलक सोहे मूसे की सवारी. जय…

अंधन को आँख देत कोढ़िन को काया

बांझन को पुत्र देत निर्धन को माया. जय…

हार चढ़े फ़ूल चढ़े और चढ़े मेवा. जय…

लड्डुअन का भोग लगे संत करें. सेवा

दीनन की लाज रखों शम्भु सुतवारी

सूर श्याम शरण आए सफ़ल कीजे सेवा

कामना को पूरा करो जग बलिहारी. जय…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here