काहे तेरी अंखियो में पानी – Kahe Teri Ankhiyo Me Pani 

169

काहे तेरी अंखियो में पानी कृष्ण दीवानी मीरा भजन – Kahe Teri Ankhiyo Me Pani 

Kahe Teri Ankhiyo Me Pani – इस भजन के माध्यम से मीरा बाई की जो कृष्ण के प्रति दिवानगी है वो दर्शाई गई है (Kahe Teri Ankhiyo Me Pani)

Kahe Teri Akhiyo Me pani lyrics

काहे तेरी अंखियो में पानी,
कृष्ण दीवानी मीरा, कृष्ण दीवानी
मीरा प्रेम दीवानी, मीरा कृष्ण दीवानी
दीवानी प्रेम दीवानी, मीरा प्रेम दीवानी

हस के तू पी ले विष का प्याला,
काहे का डर तोरे संग गोपाला ।
तेरे तन की ना होगी हानि,
कृष्ण दीवानी मीरा, कृष्ण दीवानी…

सब के लिए मैं मुरली बजाऊं,
नाच नाच सरे जग को नचाऊ ।
सिर्फ राधा नहीं है मेरी रानी,
कृष्ण दीवानी मीरा, कृष्ण दीवानी…

प्रीत में भक्ति जब मिल जाए,
जग तो क्या सृष्टि हिल जाए ।
झुक जावे अभिमानी,
कृष्ण दीवानी मीरा, कृष्ण दीवानी…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here