आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की – Nand Ke Anand Bhayo

नन्द के आनद भयो जय कन्हैया लाल की – Nand Ke Anand Bhayo

Nand Ke Anand Bhayo – यदि जन्माष्टमी पर ये भजन न गया जाये तो जन्माष्टमी का उत्साह अधूरा लगता है Nand Ke Anand Bhayo Jai Kanhaiya Lal Ki…

Nand Ke Anand Bhayo Lyrics

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

जय हो नंदलाल की, जय यशोदा लाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

जय हो नंदलाल की, जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

पूनम के चाँद जैसी शोभी है बाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

भक्तो के आनंद्कनद जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

जय हो यशोदा लाल की, जय हो गोपाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

आनद से बोलो सब जय हो बृज लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

जय हो बृज लाल की,पावन प्रतिपाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

जय हो नंदलाल की, जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हिया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

जय हो नंदलाल की, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हिया लाल की॥

Leave a Comment