प्रभुजी मैं राज़ कर

10

प्रभुजी मैं राज़ कर (Prabhu ji me Raaj Kar bhajan in hindi Mp3)

प्रभुजी मैं अरज करुं छूं म्हारो बेड़ो लगाज्यो पार॥

इण भव में मैं दुख बहु पायो संसा-सोग निवार।

अष्ट करम की तलब लगी है दूर करो दुख-भार॥

यों संसार सब बह्यो जात है लख चौरासी री धार।

मीरा के प्रभु गिरधर नागर आवागमन निवार॥

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here