रघुबर तुमको मेरी लाज

रघुबर तुमको मेरी लाज भजन-Raghubir Tumko Meri Laaj Bhajan In Hindi Mp3

Raghubir Tumko Meri Laaj Bhajan Lyrics

रघुबर तुमको मेरी लाज

सदा सदा मैं शरण तिहारी

तुम हो ग़रीब नेवाज

रघुबर तुम हो ग़रीब नेवाज

रघुबर तुमको मेरी लाज

पतित उधारन विरद तिहारो

श्रवन न सुनी आवाज

हूँ तो पतित पुरातन कहिये

पार उतारो जहाज रघुबर

पार उतारो जहाज

रघुबर …

अघ खण्डन दुख भंजन जन के

यही तिहारो काज

रघुबर यही तिहारो काज

तुलसीदास पर किरपा कीजे

भक्ति दान देहु आज

रघुबर भक्ति दान देहु आज

रघुबर तुमको मेरी लाज …

 

Leave a Comment